सोमवार, 17 अप्रैल 2017

Jaag Ke Kati Sari Raina


Jaag Ke Kati Sari Rayna,
Nayno Me Kal Oos Girithi,

Prem Ki Agni Buzti Nahi Hai,
Behti Nadiya Rukti Nahi Hai,
Sagar Tat Behtey Do Neyna,

Ruh Ke Bandhan Khulte Nahi Hai,
Daagg Hai Dil Ke Dhulte Nahi Hai,
Karwat Karwat Baati Rayna
Album: Leela (2002)
Singers: Jagjit Singh
Lyricist: Gulzal
जाग के काटी सारी रैना
नैनों में कल ओस गिरी थी
जाग के काटी सारी रैना

प्रेम की अग्नि बुझती नहीं हैं
बहती नदिया रुकती नहीं हैं
सागर तक बहते दो नैना

रूह के बंधन खुलते नहीं हैं
दाग हैं दिल के धुलते नहीं हैं
करवट करवट बाकी रैना
एल्बम: लीला (2002)
गायक: जगजीत सिंह
शायर: गुलजार
Watch/Listen on YouTube: Pictorial Presentation