गुरुवार, 2 फ़रवरी 2017

Dil-e-naadaan Tujhe Hua Kya Hai



Dil-e-naadaan Tujhe Hua Kya Hai?
Aakhir Is Dard Kee Dawa Kya Hai?

Hamko Unse Wafa Ki Hai Ummeed;
Jo Naheen Jaante Wafa Kya Hai?

Dil-e-naadaan Tujhe Huaa Kya Hai?
Aakhir Is Dard Kee Dawa Kya Hai?

Ham Hain Mushtaaq Aur Woh Bezaar;
Ya Ilaahee ! Yeh Maajra Kya Hai?

Jab Ki Tujh Bin Naheen Koee Maujood;
Fir Ye Hangaama, 'Ei Khuda! Kya Hai?

Jaan Tum Par Nisaar Karta Hoon;
Main Naheen Jaanata Duaa Kya Hai?
Album: Mirza Ghalib
Singers: Jagjit Singh
Lyricist: Mirza Ghalib
दिल-ए-नादाँ तुझे हुआ क्या है?
आख़िर इस दर्द की दवा क्या है?

हमको उनसे वफ़ा की है उम्मीद;
जो नहीं जानते वफ़ा क्या है?

हम हैं मुश्ताक़ और वो बेज़ार;
या इलाही ये माजरा क्या है?

जब कि तुझ बिन नहीं कोई मौजूद;
फिर ये हंगामा ऐ ख़ुदा क्या है?

जान तुम पर निसार करता हूँ;
मैंने नहीं जानता दुआ क्या है?
एल्बम: मिर्ज़ा ग़ालिब
गायक: जगजीत सिंह
शायर: मिर्ज़ा ग़ालिब
Watch/Listen on youtube:
 By- Jagjit Singh
By- Suraiya and Talat Mohamed  
From Movie - Mirza Ghalib (1954)