सोमवार, 15 मई 2017

Jaate Jaate Wo Mujhe Achchhi Nishaani De Gaya



Jaate Jaate Wo Mujhe Achchhi Nishaani De Gaya
Umr Bhar Dohraoonga Aisi Kahaani De Gaya

Uss Se Main Kuch Paa Sakoon Aisi Kahan Ummeed Thi
Gham Bhi Shaayad Wo Baraaye Meharbaani De Gaya

Sab Hawaaen Le Gaya Mere Samander Ki Koi
Aur Mujhko Ek Kashti Baadbaani De Gaya

Khair Main Pyaasa Raha, Par Usne Itna To Kiya
Mere Palkon Ki Kataron Ko Wo Paani De Gaya
Album: SILSILAY
Singers: Jagjit Singh
Lyricist: Javed Akhtar
जाते जाते वो मुझे अच्छी निशानी दे गया
उम्र भर दोहराऊंगा ऐसी कहानी दे गया

उससे मैं कुछ पा सकूँ ऐसी कहाँ उम्मीद थी
ग़म भी वो शायद बराए मेहरबानी दे गया

सब हवाएँ ले गया मेरे समंदर की कोई
और मुझको एक कश्ती बादबानी दे गया

ख़ैर मैं प्यासा रहा पर उसने इतना तो किया
मेरी पलकों की क़तारों को वो पानी दे गया
एल्बम: सिलसिले
गायक: जगजीत सिंह
शायर: जावेद अख्तर
Watch/Listen on youtube: Pictorial Presentation