गुरुवार, 18 मई 2017

Tum Baithe Ho Lekin Jate Dekh Raha Hun



Tum Baithe Ho Lekin Jate Dekh Raha Hu,
Main Tanhai Ke Din Aate Dekh Raha Hu,

Aane Wale Lamhe Se Dil Sehma Hai,
Tumko Bhi Darte Ghabrate Dekh Raha Hu,

Kab Yaado Ka Jakham Bhare Kab Daag Mite,
Kitne Din Lagte Hai Bhulate Dekh Raha Hu,

Uski Aakhon Me Bhi Kaajal Faila Hai,
Main Bhi Mudake Jate Jate Dekh Raha Hu.
Album: SOZ
Singers: Jagjit Singh
Lyricist: Javed Akhtar
तुम बैठे हो लेकिन जाते देख रहा हूँ
मैं तन्हाई के दिन आते देख रहा हूँ

आने वाले लम्हे से दिल सहमा है
तुमको भी डरते घबराते देख रहा हूँ

कब यादों का ज़ख्म भरे कब दाग मिटे
कितने दिन लगते हैं भुलाते देख रहा हूँ

उसकी आँखों में भी काजल फैला है
मैं भी मुड़ के जाते जाते देख रहा हूँ
एल्बम: सोज़
गायक: जगजीत सिंह
शायर: जावेद अख़्तर
Watch/Listen on youtube: Pictorial Presentation